Apple ने Open Source AI मॉडल्स पेश किए, जो डिवाइस पर Cloud सेवाओं के बजाय चलते हैं

Apple ने अपनी नई ओपन सोर्स एआई मॉडल्स को पेश किया है, जो क्लाउड सेवाओं के माध्यम से नहीं, बल्कि डिवाइस पर सीधे चलाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। इस खबर में जानें Apple के नए एआई मॉडल्स के बारे में और उनके उपयोग के फायदे।

Apple Introduces Open Source AI Models for On-Device Processing
Apple Introduces Open Source AI Models for On-Device Processing

Apple ने अंततः AI दौड़ में कदम रखा है। कुपर्टीनो आधारित टेक जांच ने अपने नए ओपन सोर्स बड़े भाषा मॉडल्स (LLMs) OpenELM (ओपन-सोर्स एफिशिएंट भाषा मॉडल्स) को पेश किया है – जो क्लाउड सेवाओं के माध्यम से नहीं, बल्कि डिवाइस पर सीधे चलाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। OpenELM मॉडल्स हाल में Hugging Face Hub पर उपलब्ध हैं, जो कि एक प्रसिद्ध समुदाय प्लेटफार्म है जहां AI कोड साझा करने के लिए।

रिलीज़ व्हाइट पेपर पीडीएफ के अनुसार, Apple के LLM एक सुइट है जिसमें आठ भाषा मॉडल्स हैं, जिसमें से चार प्री-ट्रेन्ड कोरनेट पुस्तकालय का उपयोग करके बनाए गए हैं और चार निर्देश-ट्यून्ड मॉडल्स। कंपनी इन मॉडल्स में लेयर-वाइज़ स्केलिंग स्ट्रैटेजी का उपयोग कर रही है, जो कि सटीकता और कुशलता को अनुकूलित करने का उद्देश्य है।

किसी भी दुसरे कंपनियों के सिर्फ प्री-ट्रेन्ड मॉडल्स पेश करने के बजाय, Apple ने इन मॉडल्स को समेट दिया है, जिसमें कोड, प्रशिक्षण लॉग, और कई संस्करण शामिल हैं। Apple का फैसला OpenELM मॉडल्स को ओपन सोर्स बनाने का उद्देश्य शोध समुदाय को नवीनतम भाषा मॉडल्स के साथ सशक्त और समृद्ध करना है। Apple के अनुसार, ओपन सोर्स मॉडल्स को साझा करके, इससे शोधकर्ताओं को मॉडलों का उपयोग करने के साथ-साथ उनके आंतरिक कार्यों में उतरने की भी संभावना है, जो कि प्राकृतिक भाषा AI के क्षेत्र में तेज़ी से प्रगति और “अधिक विश्वसनीय परिणामों” की सुविधा प्रदान करता है।

शोधकर्ताओं, डेवलपर्स, और कंपनियां Apple के OpenELM मॉडल्स का उपयोग उनके रूप में कर सकती हैं या उन्हें विशेष आवश्यकताओं के अनुसार सामान्यत: अपने यह खुली सोर्स AI मॉडल्स का उपयोग करने वाले ग्राहकों को अपने आवश्यकताओं के लिए सान्दर्भिक बनाने की अनुमति देने के लिए बढ़ते और संबंधित काम करने की नई संभावनाओं को सुझाते हैं। इसके अलावा, यह कंपनी के लिए एक रणनीतिक फायदा भी लेकर आता है, जिससे Apple शोध समुदाय के भीतर सहयोग कर सकती है ताकि दूसरों को ऑपनएलएम को सुधारने और संदर्भित करने का अवसर मिल सके।

विशेष रूप से, इस खुली वातावरण के द्वारा, यह शीर्ष योग्यता के इंजीनियरों, वैज्ञानिकों, और विशेषज्ञों को आकर्षित करेगा। Apple के अनुसार, ऑपनएलएम मॉडल्स वास्तव में एक उत्तरदाता के रूप में कार्य करते हैं, जिससे यह न केवल Apple के लिए बल्कि पूरे AI परिदृश्य के लिए एक आधार स्थापित करते हैं।

इसके बावजूद, Apple ने अभी तक अपने उपकरणों में ये AI क्षमताओं को नहीं पेश किया है, हालांकि iOS 18 का रिलीज होने वाला है, और अफवाहें हैं कि Apple की योजना है कि नए ओएस के साथ डिवाइस पर AI सुविधाओं को लाने की। अब जब उसने अपने खुद के एलएलएम का लॉन्च किया है, तो स्पष्ट है कि Apple अपने डिवाइसों के AI अपग्रेड के लिए आधारशिला रख रहा है, जिसमें iPhone, iPad, और मैक्स शामिल हैं। यह उम्मीद है कि Apple अपने बड़े भाषा मॉडल्स को अपने डिवाइसों में शामिल करेगा, जिससे उपयोगकर्ताओं को अधिक व्यक्तिगत और अधिक कुशल उपयोगकर्ता अनुभव मिल सके। यह ऑन-डिवाइस प्रोसेसिंग की ओर एक स्थानीय शिफ्ट अद्वितीय गुण है, जिससे यह Apple को उपयोगकर्ता गोपनीयता को बढ़ावा देने और डेवलपर्स को तत्पर, योग्य AI उपकरण प्राप्त करने की सुविधा प्रदान कर सकता है।

यहां तक कि इस ओपन सोर्स के फायदे अपने अनुसंधानकर्ताओं के लिए सहायक सिद्ध हो रहे हैं, जिसमें अब तक बहुत से खुद के मॉडल और सामग्री तैयार कर ली गई हैं, जो वास्तव में उनके लिए अच्छी खबर हैं। विशेषकर इस तरह के प्रकार की प्रक्रिया जो कंपनियों को अपने पेशेवर या व्यक्तिगत उपयोगकर्ता की आवश्यकताओं के अनुसार समायोजित करने में मदद कर सकती हैं। और इससे, यह दूसरों के लिए एक स्पर्श करने की ओर स्थानीय सूचना साझा करने का एक सुनहरा अवसर बन सकता है।

यह भी पढ़े: भारत में Realme Narzo 70x 5G और Narzo 70 5G का लॉन्च: मूल्य, विशेषताएं और निष्कर्ष

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here