Kalki 2898 Ad मूवी रिव्यू: अमिताभ बच्चन के अद्वितीय प्रदर्शन ने बांधा सबका ध्यान

Kalki 2898 AD Review: Amitabh Bachchan's outstanding performance
Kalki 2898 AD Review: Amitabh Bachchan's outstanding performance

प्रभास की बहुप्रतीक्षित साइ-फाई महाकाव्य फिल्म ‘Kalki 2898 Ad’ सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है। इस फिल्म में भारतीय पौराणिक कथाओं को पोस्ट-अपोकैलिप्टिक विज्ञान-कथा के साथ मिश्रित करने का प्रयास किया गया है। हालांकि, यह अवधारणा भारतीय सिनेमा के लिए नई है, लेकिन कहानी और दुनिया मौलिकता की कमी महसूस कराती है, जो कई हॉलीवुड फिल्मों जैसे ‘स्टार वार्स’, ‘गार्डियंस ऑफ द गैलेक्सी’, ‘ब्लैक पैंथर’, और ‘मैड मैक्स’ से प्रेरित नजर आती है।

फिल्म की शुरुआत महाभारत के एक दृश्य से होती है, जिसमें यद्यपि डि-एजिंग तकनीक पर सवाल उठते हैं, लेकिन यह Kalki की दुनिया के परिचय के लिए अच्छा माध्यम साबित होता है। पहले हाफ में मिश्रित अनुभव मिलता है, जिसमें प्रभास की एंट्री धीमी और कमजोर संवादों के साथ खींचती सी लगती है। कुछ पूरे दृश्य और अनावश्यक गीत हैं, जो न तो कथानक को आगे बढ़ाते हैं और न ही पात्रों का विकास करते हैं। पृष्ठभूमि संगीत फीका और प्रभावहीन लगता है।

प्रभास, जो अपनी हाल की फिल्मों की तुलना में बेहतर दिखते हैं, को पहले हाफ में सीमित स्क्रीन टाइम मिलता है, लेकिन उनके हावभाव और संवाद मजबूर और अजीब लगते हैं। कीर्ति सुरेश, जो प्रभास की एआई असिस्टेंट/कार साथी का किरदार निभा रही हैं, और भी खराब स्थिति में हैं। दीपिका पादुकोण, शोभना और कई अनावश्यक कैमियो का बहुत कम उपयोग हुआ है।

फिल्म के कुछ हिस्से काम करते हैं, विशेष रूप से जब अमिताभ बच्चन अपनी कमांडिंग उपस्थिति के साथ स्क्रीन पर आते हैं, तो वे सचमुच सभी पर भारी पड़ते हैं। मुख्य खलनायक, जिसे कमल हासन ने निभाया है, भी एक प्रमुख आकर्षण हैं, हालांकि उन्हें स्क्रीन टाइम बहुत कम मिलता है।

दूसरे हाफ में कहानी का अधिकांश भाग आगे बढ़ता है। तीन घंटे की फिल्म में दो घंटे तीस मिनट दुनिया को बनाने में बिताए जाते हैं और सब कुछ आखिरी तीस मिनट में जल्दबाजी में निपटाया जाता है। एक बार फिर, अमिताभ बच्चन और कमल हासन अपने आभामंडल से फिल्म को ऊँचाई प्रदान करते हैं।

कुल मिलाकर, ‘Kalki’ सिनेमा ब्रह्मांड भविष्य के किस्तों में सुधार की संभावना दिखाता है। इस पैमाने पर भारतीय पौराणिक कथाओं को फिल्मों में देखना दुर्लभ है, और अगर निर्देशक कड़े स्क्रिप्ट्स और कम व्युत्पन्न दृश्यों के साथ इसे आगे बढ़ाते हैं, तो कुछ बेहतरीन बनाने की संभावना है।

Kalki 2898 Ad Trailer: 

यह भी पढ़े: करतम भुगतम मूवी रिव्यू: सरल प्रतिशोध नाटक | पूरा विश्लेषण जरूर पढ़िए

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here