Google Docs, Voice Typing फीचर अब Safari और Edge Browser पर उपलब्ध | गूगल वॉइस टाइपिंग और कैप्शन्स फीचर्स का उपयोग कैसे करें

"वॉइस टाइपिंग फीचर के जरिए यूज़र्स अब गूगल डॉक्स में अपने वॉइस का इस्तेमाल करके डॉक्यूमेंट्स को संपादित कर सकते हैं या गूगल स्लाइड्स में स्पीकर नोट्स को भी बना सकते हैं।"

Google Docs Voice Typing Feature Now Available on Safari and Edge Browser
Google Docs Voice Typing Feature Now Available on Safari and Edge Browser

गूगल ने घोषणा की है कि वह अपनी वॉइस टाइपिंग और ऑटोमेटिक कैप्शन फीचर्स को अब और वेब ब्राउज़रों में भी फैला रहा है। अब तक, ये फीचर्स केवल नवीनतम संस्करण के गूगल क्रोम पर ही उपलब्ध थे। आज से, उपयोगकर्ता अतिरिक्त ब्राउज़र्स, जैसे कि माइक्रोसॉफ्ट एज और एप्पल सफारी पर वॉइस टाइपिंग और ऑटोमेटिक कैप्शन का उपयोग कर सकते हैं।

वॉइस टाइपिंग फीचर के जरिए यूज़र्स गूगल डॉक्स में अपने वॉइस का इस्तेमाल करके डॉक्यूमेंट्स को संपादित कर सकते हैं या गूगल स्लाइड्स में स्पीकर नोट्स को भी बना सकते हैं। ऑटोमेटिक कैप्शन्स प्रेज़ेंटेशन के दौरान बोले गए शब्दों को रियल टाइम में गूगल स्लाइड्स में दिखाता है। इस विस्तार से, उपयोगकर्ता अब इन फीचर्स का उपयोग एक और ब्राउज़र्स की व्यापक श्रेणी पर कर सकते हैं।

जब एक उपयोगकर्ता वॉइस टाइपिंग या कैप्शन्स को एनेबल करता है, तो वेब ब्राउज़र स्पीच-टू-टेक्स्ट सेवा को प्रबंधित करता है। ब्राउज़र भाषा को प्रोसेस करता है और टेक्स्ट डेटा को गूगल डॉक्स या गूगल स्लाइड्स को भेजता है। इसका मतलब है कि ब्राउज़र संयोजन कैसे होना चाहिए, यह स्पीच को टेक्स्ट में कैसे बदलता है यह गूगल के एप्लीकेशन्स तक पहुंचता है।

इस अपडेट के प्रभाव के बारे में अधिक जानकारी के लिए, गूगल डॉक्स और गूगल स्लाइड्स के वॉइस टाइपिंग और ऑटोमेटिक कैप्शन्स का उपयोग करने वाले उपयोगकर्ताओं को अब डेस्कटॉप कंप्यूटर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। व्यवस्थापकों को अपनी डोमेन के भीतर कौन-कौन से वेब ब्राउज़र्स समर्थित हैं, इसे नियंत्रित करने की क्षमता होती है। कुछ ब्राउज़र्स में वेब स्पीच API को ब्राउज़र स्तर पर निष्क्रिय करने के विकल्प भी हो सकते हैं। अंत उपयोगकर्ताओं के लिए, जब वे पहली बार इस फीचर को एनेबल करते हैं, तो उन्हें जानकारी के लिए हेल्प सेंटर की ओर निर्देशित किया जा सकता है, जहां वे वॉइस टाइपिंग और कैप्शन्स का उपयोग करने के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इस अद्यतन से गूगल वर्कस्पेस ग्राहकों, गूगल वर्कस्पेस इंडिविड्युअल सब्सक्राइबर्स, और व्यक्तिगत गूगल खाता वाले उपयोगकर्ताओं को यह सुविधा मिलेगी। यह विस्तार एक महत्वपूर्ण कदम है जो गूगल के उपकरणों को विभिन्न प्लेटफॉर्मों पर अधिक विशेषता और पहुंचनीय बनाने की दिशा में है, जिससे उपयोगकर्ताओं की कार्यशैली और समावेशीता में सुधार हो सके।

इस समाचार के साथ, गूगल के वॉइस टाइपिंग और ऑटोमेटिक कैप्शन फीचर्स अब एज और सफारी जैसे अधिक वेब ब्राउज़र्स पर उपलब्ध हैं। यह परिवर्तन गूगल डॉक्स और गूगल स्लाइड्स को और समावेशी और पहुंचनीय बनाने की दिशा में है, जिससे इन फीचर्स से अधिक उपयोगकर्ता लाभान्वित हो सकें। इस रोलआउट की क्रमबद्धता में भी कुछ अंतर हो सकता है, कुछ उपयोगकर्ताओं के लिए आज से शुरू होता है और दूसरों के लिए जून तक चलता है।

यह भी पढ़े: Oppo Find X7 Ultra Review In Hindi: विशेषताओं और प्रदर्शन का विस्तृत विश्लेषण

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here