कांग्रेस का घोषणापत्र में ‘जिहादी’, समाप्ति राजनीति: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने खोला कांग्रेस के घोषणापत्र का राज, कहा कि वहां 'जिहादी' सोच और समाप्ति राजनीति है। इस खबर में पाएं विस्तृत विश्लेषण।

Delhi BJP Chief Exposes 'Jihadi', Appeasement Politics in Congress Manifesto
Delhi BJP Chief Exposes 'Jihadi', Appeasement Politics in Congress Manifesto

दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी के घोषणापत्र में “जिहादी” और “समाप्ति” राजनीति शामिल है।

देश को तोड़ने का इरादा:

पत्रकारों के सम्मेलन में बातचीत करते हुए, सचदेवा ने कांग्रेस को घेरा, कहते हुए कि लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी का घोषणापत्र “देश को तोड़ने का इरादा रखता है”।

‘जिहादी’ सोच:

“कांग्रेस के घोषणापत्र से ‘जिहादी’ सोच और समाप्ति राजनीति की बदबू आ रही है। उन्होंने कहा है कि हम सत्ता में आएंगे तो हम देश की संपत्तियों का सर्वेक्षण करेंगे। कांग्रेस को स्पष्ट करना चाहिए कि वे किस संपत्ति की बात कर रहे हैं। क्या वे हमारी माँ और बहनों के गहने की बात कर रहे हैं?” उन्होंने कहा।

हिंदू समुदाय पर आरोप:

क्या कांग्रेस मां और बहनों की संपत्ति को ‘नष्ट’ करना चाहती है? क्या हिंदू समुदाय से संबंध रखना एक अपराध है? क्या ‘मंगलसूत्र’ पहनना एक अपराध है?” उन्होंने पूछा।

मीडिया का आकर्षण:

नगर परिषद में विपक्षी नेता राजा इकबाल भी पत्रकारों से बात करते हुए उत्तराखंड सरकार की मीडिया प्रवक्ता हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी को टोपियों पर कवरेज देने के लिए आरोप लगाया और कहा कि इसने अस्तित्व के लिए समर्थन करने वाले विद्यालयों के लिए धन बांटने में देरी की। उन्होंने AAP को भ्रष्टाचार का आरोप लगाया और कहा कि यह शहर में प्रभावी शासन करने में विफल रही है।

Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here