भाजपा की प्रतिविरोध धरना: केजरीवाल के इस्तीफे की मांग, आपकी राय क्या है?

भाजपा ने प्रतिविरोध धरना की योजना बनाई, केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की

BJP's Counter-Protest: Demand for Kejriwal's Resignation, What's Your Opinion?
BJP's Counter-Protest: Demand for Kejriwal's Resignation, What's Your Opinion?

भाजपा ने दिल्ली के मुख्य विरेंद्र सचदेवा के नेतृत्व में एक प्रतिविरोध धरना का आयोजन किया है, जिसमें अरविंद केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की जा रही है। इस धरने का आयोजन होली के त्योहार के दिन किया गया है और इसका मार्च फिरोज़ शाह कोटला स्टेडियम से दिल्ली सचिवालय की ओर होगा।

भाजपा की मांग: केजरीवाल का इस्तीफा

भाजपा ने केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद से ही उनके इस्तीफे की मांग की है। इसके विपरीत, आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा है कि केजरीवाल जेल के अंदर से ही दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य करते रहेंगे। इससे केजरीवाल को पहले सर्विंग चीफ मिनिस्टर बना दिया गया है जिन्हें गिरफ्तार किया गया है। पहले हेमंत सोरेन, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री, ने अपने गिरफ्तार होने से पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था।

केजरीवाल को गिरफ्तार किया गया था जो कि उनकी जांच एजेंसी की कस्टडी में 28 मार्च तक रहेगा। पुलिस ने उन्हें एक निवेदन में अंडरकवर जेल में रखा है, क्योंकि उन्हें व्यापारियों और थोक विक्रेताओं के लिए अधिकतम मुनाफे प्रदान करने के लिए एक अब तक समाप्त धारित नीति के बारे में “षड्यंत्रकार” माना गया है। दिल्ली शराब नीति में प्राइवेट एंटिटीज को छठी प्रतिशत की किकबैक के लिए दस प्रतिशत निर्धारित मार्जिन के साथ थोक शराब व्यवसायों को खरीदने की अनुमति दी गई थी।

केजरीवाल, जिन्हें गिरफ्तार किया गया था उन्होंने अपनी पत्नी सुनीता केजरीवाल के माध्यम से सभी को आग्रह किया कि वे नफरत को नहीं बनाए रखें, विशेषकर शक्ति में बैठे लोगों के प्रति।

“भारत में कई ऐसे बाहरी और आंतरिक बल हैं जो देश को कमजोर कर रहे हैं। कोई जेल ऐसी नहीं है जो उसे बहुत लंबे समय तक बंदी रख सके। मैं जल्दी ही बाहर आऊंगा और अपने वादों को निभाऊंगा

“मैं खुद की प्रमिशन करता हूं,” दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में लिखा। उन्होंने अपनी जेल से पहली निर्देशिका दी, जिसमें आतिशी के माध्यम से गर्मी के आसपास के क्षेत्रों में जल की अधिकतम संख्या के टैंक लगाने की बात की गई।

आप और भारत ब्लॉक ने भी केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान में एक प्रदर्शन में हिस्सा लिया। आप के सांसद और कार्यालयधारक भी मंगलवार को पार्टी के मुख्यालय में इकट्ठा होकर प्रधानमंत्री के निवास की ओर मार्च करने की योजना बना रहे हैं। भाजपा प्रतिनिधित्व करने वाले नेताओं ने अपनी प्रतिविरोध धरना का आयोजन किया है, जो केजरीवाल की धरने के समय ही होगा।

दिल्ली पुलिस ने एक एएनआई रिपोर्ट के अनुसार आप की धरने के लिए अनुमति नहीं दी है।

निष्कर्ष

यह इस समय की बड़ी खबर है कि भाजपा ने केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद उनके इस्तीफे की मांग की है और एक प्रतिविरोध धरना का आयोजन किया है। यह धरना होली के त्योहार के बाद की जा रही है और इसमें केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की जा रही है। आप के नेताओं का भी प्रतिविरोध होगा जो प्रधानमंत्री के निवास की ओर मार्च करेंगे। इस तरह की राजनीतिक घटनाओं के बीच दिल्ली में तनाव की स्थिति बनी रहती है।

यह बात विशेष महत्वपूर्ण है क्योंकि यह भारतीय राजनीति के बड़े खिलाफों के बीच उत्पन्न राजनीतिक विवाद को दर्शाती है। इस संबंध में दिल्ली में होने वाले प्रतिविरोध के विरोधाभास के समय पर देशवासियों के ध्यान में रखना चाहिए।

यह घटनाक्रम अब आगे की राजनीतिक परिस्थितियों के आधार पर निर्भर करेगा और यह देखना होगा कि कैसे प्रदर्शनकारी संगठनों का आपसी संघर्ष आगे बढ़ता है।

यह भी पढ़े: कंगना ने फिल्मों में अच्छा काम किया, लेकिन ये राजनीति है: विक्रमादित्य

Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here