वाहन निर्यात में भारतीय कंपनियों की 5.5% से ज्यादा गिरावट! जानिये क्या है राज़?

Indian companies' vehicle exports declined by more than 5.5%! Know what is the secret?
Indian companies' vehicle exports declined by more than 5.5%! Know what is the secret?

नई दिल्ली: भारत से वाहन निर्यात को आर्थिक संकट के कारण FY24 में 5.5 प्रतिशत की गिरावट का सामना करना पड़ा है, जैसा कि उद्योग संगठन SIAM द्वारा साझा किए गए नवीनतम आंकड़े से पता चला है। पिछले वित्तीय वर्ष में कुल निर्यात 45,00,492 इकाइयों पर रहा जो कि FY23 में 47,61,299 इकाइयों के समान था।

आर्थिक क्रिसिस ने की विदेशी बाजारों में वाहन निर्यात में गिरावट

गत वित्तीय वर्ष में विदेशी शिपमेंट में वृद्धि के कारण, SIAM के अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने गिरावट पर टिप्पणी की, जिनके अनुसार विभिन्न विदेशी बाजारों में स्थिति संवेदनशील है। “कुछ देश, जहां हम कमर्शियल वाहन और दोपहिया निर्यात में बहुत मजबूत हैं, वहाँ विदेशी मुद्रा संबंधित समस्याएं उठ रही हैं,” उन्होंने ध्यान दिया।

जनवरी-मार्च क्वार्टर में बेहतरीन प्रकरण

अंतर्दृष्टि देते हुए अग्रवाल ने कहा, “इस वर्ष के जनवरी-मार्च क्वार्टर में हमने खासकर दोपहियों के लिए अच्छी पुनर्वास्था देखी है, जो बाकी वर्ष के लिए बेहतर संभावनाओं का संकेत देता है।” उन्होंने जोड़ा, “हम बहुत आशावादी हैं कि आगे चलकर स्थिति सुधरेगी।”

यातायात वाहनों में बेहद संख्या में गिरावट

यातायात वाहनों के क्षेत्र में, वित्तीय वर्ष 2023-24 में यातायात वाहनों के निर्यात में 5.3 प्रतिशत की गिरावट आई, जिसमें 34,58,416 इकाइयाँ निर्यात हुईं जो कि 2022-23 में 36,52,122 इकाइयों के समान थी। उसी तरह, वाणिज्यिक वाहन शिपमेंट में 16 प्रतिशत की गिरावट आई, जो 65,816 इकाइयों के समान थीं वित्तीय वर्ष 2022-23 में 78,645 इकाइयों के। तीन-व्हीलर निर्यात में 18 प्रतिशत की गिरावट आई, जो 2,99,977 इकाइयों के समान थीं वित्तीय वर्ष 2022-23 में 3,65,549 इकाइयों के।

सारांश

वाहन निर्यात के क्षेत्र में FY24 में हुई गिरावट ने आर्थिक संकट की मार पर साक्षात्कार किया है। SIAM के अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने संकट के कारणों पर विचार किया और आगे चलकर स्थिति में सुधार की उम्मीद जताई। पासेंजर वाहनों की निर्यात में मारुति सुजुकी की लगातार बढ़ती गति और अन्य कंपनियों की योगदान से सेक्टर में रोशनी की उम्मीद दी जा रही है। आने वाले समय में, वाहन उत्पादन और निर्यात क्षेत्र में सुधार की संभावना है जो बाजार के स्थिरता को पुनः स्थापित कर सकता है।

यह भी पढ़े: 2024 हुंडई क्रेटा ने तोड़ी सभी रिकॉर्ड्स, 1 लाख बुकिंग्स एक साथ | जानें इस खास सुविधाओं से लैस SUV की खासियतें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Team K.H.
Team K.H. एक न्यूज़ वेबसाइट का लेखक प्रोफ़ाइल है। इस टीम में कई प्रोफेशनल और अनुभवी पत्रकार और लेखक शामिल हैं, जो अपने विशेषज्ञता के क्षेत्र में लेखन करते हैं। यहाँ हम खबरों, समाचारों, विचारों और विश्लेषण को साझा करते हैं, जिससे पाठकों को सटीक और निष्पक्ष जानकारी प्राप्त होती है। Team K.H. का मिशन है समाज में जागरूकता और जानकारी को बढ़ावा देना और लोगों को विश्वसनीय और मान्य स्रोत से जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here